Sunday, 24 January 2016

तन्हाई भरी शायरी

 

तनहाई में फरियाद…

तनहाई में फरियाद तो कर सकता हूँ,
वीराने को आबाद कर सकता हूँ,
जब चाहूँ तुम्हे मिल नहीं सकता,
लेकिन जब चाहूँ तुम्हे याद कर सकता हूँ |

Tuesday, 1 December 2015

याद तेरी आती है शायरी




जिनकी याद में…



जिनकी याद में हम दीवाने हो गए,
वो हम ही से बेगाने हो गए,
शायद उन्हें तालाश है अब नये प्यार की,
क्यूंकि उनकी नज़र में हम पुराने हो गए |

Sunday, 18 October 2015

दो लाइन शेर-ओ-शायरी

दिल काँच का बनाया होता..

बनाने वाले ने दिल काँच का बनाया होता .
तोड़ने वाले के हाथ मे जखम तो आया होता .
जब बी देखता वो अपने हाथों को ,
उसे हमारा ख़याल तो आया होता!...

Sunday, 11 October 2015

दो लाइन दर्द शायरी

आए ज़िंदगी में….

तुम आए ज़िंदगी मे कहानी बन कर,
तुम आए ज़िंदगी मे रात की चाँदनी बन कर,
बसा लेते है जिन्हे हम आँखो मे,
वो अक्सर निकल जाते है आँखो से पानी बन कर…

Wednesday, 2 September 2015

दर्द भरी शायरी दो लाइन


आए ज़िंदगी में….


तुम आए ज़िंदगी मे कहानी बन कर,
तुम आए ज़िंदगी मे रात की चाँदनी बन कर,
बसा लेते है जिन्हे हम आँखो मे,
वो अक्सर निकल जाते है आँखो से पानी बन कर… :(

Friday, 3 July 2015

kahe do labzo se...

mehsoos karte karte to maar dala yeh ishq nai....
lab say jo kahe na sake....chura liya tujhe kisi aur ke nazaro nai....

Dil doobne laga...

Tere chahat ke zor se dil na rukh saka
laakh manaya pyar na kar
phir bhi tere ishq ke geherai mai dil doobne laga...